दिगम्बर जैन इण्टर कालिज पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दिल्ली सहारनपुर राज्य राजमार्ग-57 पर स्थित बडौत नगर की 100 वर्ष पुरानी प्रसिद्द जैन अल्पसंख्यक शिक्षण संस्था हैं | बडौत नगर प्राचीन काल से ही शिक्षा का महत्वपूर्ण केन्द्र बिंदु रहा हैं तथा दिगम्बर जैन इण्टर कालिज आस-पास के ग्रामीण परिवेश के लिए शिक्षा प्राप्त करने की निकटतम तथा पसंदीदा शिक्षण संस्था रही हैं | आज जब शिक्षा का निजीकरण अपने चरम पर हैं, तब भी यह शिक्षण संस्था अपनी गुणवत्तापूर्ण शिक्षण प्रणाली के कारण जनपद की अधिकतम छात्र संख्या वाली संस्थाओ में से एक हैं |

एक राष्ट्र के विकास के लिए समाज के हर वर्ग का विकास होना अनिवार्य हैं! यह विकास केवल शिक्षा से ही संभव हैं! अतः इस संस्था ने प्रतिवर्ष उत्तम शिक्षा समाज के हर वर्ग तक पहुचाने का प्रयास किया हैं! संस्था छात्र-वृति एवं पुरस्कार के माध्यम से हर प्रयत्नशील बालक एवं बालिका को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करती हैं!

नगर के गणमान्य विचारको से सुसज्जित, इस संस्था की प्रबन्ध समिति सदेव शिक्षा की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए कार्यरत हैं| जैन समाज के प्रबुध नागरिको द्वारा 100 वर्ष पूर्व प्रारंभ किया, यह प्रयास निरंतर राष्ट्र सेवा मे लगा हैं | माध्यमिक स्तर पर दिगम्बर जैन इण्टर कालिज का पश्चिमी उ० प्र० की शिक्षण संस्थाओं मे एक महत्वपूर्ण स्थान रहा है। संस्था का परीक्षाफल इस तथ्य को सदैव प्रमाणित करता रहा है। दिगम्बर जैन इण्टर कालिज संस्था के बारे में और जानने के लिए क्लिक करें…

Shri Vakeel Chand Jain

वकील चन्द जैन, प्रधानाचार्य

संस्था के प्रधानाचार्य, संस्था मे कार्यरत शिक्षक-शिक्षिकाओ एवं अन्य सहयोगियो की ओर से दिगम्बर जैन इण्टर कालिज की इस वेबसाइट पर आपका स्वागत करते हैं| आशा हैं… इस वेबसाइट के माध्यम से कई पुरातन छात्र एवम् छात्रा, अपनी प्रिय संस्था से पुनः जुड़ सकेंगे!